कोविड़-19 के चलते मदरसों में भी ऑनलाइन क्लासेस चलायी जाये -अल्पसंख्...

कोविड़-19 के चलते मदरसों में भी ऑनलाइन क्लासेस चलायी जाये -अल्पसंख्यक मामलात एवं वक्फ मंत्री

जयपुर, 30 जुलाई। अल्पसंख्यक मामलात एवं वक्फ मंत्री श्री शाले मोहम्मद ने कहा की शिक्षा विभाग की तर्ज पर मदरसों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए भी कोविड-19 के समय में ऑनलाइन कक्षाएं चलाये जाने की व्यवस्था जाये। श्री शाले मोहम्मद गुरुवार को सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में अल्पसंख्यक मामलात विभाग के अधिकारियों के साथ विभागीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
 
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने कहा कि जिस प्रकार कोविड-19 की विषम परिस्थितियों के समय में शिक्षा विभाग बच्चों का पाठ्यक्रम ऑनलाइन स्तर पर किया गया है उसी तर्ज पर मदरसों के बच्चों के लिए भी मदरसों में  उच्च प्राथमिक स्तर पर ऑनलाइन क्लासेस चलाई जाये। उन्होंने कहा कि हर जिले के कुछ मदरसों में शिक्षा विभाग के लिंक से ऑनलाइन क्लासेस चलाने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने वक्फ एक्ट के नियम शीघ्र बनाने के भी निर्देश दिये।
 
उन्होंने मदरसा बोर्ड, वक्फ बोर्ड से संबंधित योजनाओं के बारे में अधिकारियों से प्रगति की जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिए कि केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को मिल सके यह सुनिश्चित किया जाए।
 
बैठक में अल्पसंख्यक मामलात विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रीमती अपर्णा अरोरा ने बताया कि मुख्यमंत्री मदरसा आधुनिकीकरण योजना के अंतर्गत पूर्व में कुल 26 जिलों के  43 मदरसों के लिए लगभग 7 करोड रूपये की प्रशासनिक स्वीकृति जारी की जा चुकी है तथा  21 मदरसों की वित्तीय स्वीकृति शीघ्र ही जारी की जाएगी एवं भविष्य में शेष रहे मदरसों के लिए  भी बोर्ड जल्द ही वित्तीय स्वीकृति देगा।
 
उन्होंने बताया कि आरएमएफडीसी के अन्तर्गत हर महिने प्राप्त होने वाले ऋण संबंधी आवेदनों का निस्तारण करना शुरू कर दिया गया है। 
कोविड़-19 के चलते मदरसों में भी ऑनलाइन क्लासेस चलायी जाये -अल्पसंख्यक मामलात एवं वक्फ मंत्री
कोविड़-19 के चलते मदरसों में भी ऑनलाइन क्लासेस चलायी जाये -अल्पसंख्यक मामलात एवं वक्फ मंत्री