जागरूकता अभियान में छात्र शक्ति का उपयोग महत्वपूर्ण-मुख्यमंत्र...

जागरूकता अभियान में छात्र शक्ति का उपयोग महत्वपूर्ण-मुख्यमंत्री

जयपुर, 5 जुलार्ई। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने छात्र-छात्राओं से कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे जागरूकता अभियान में भागीदारी निभाने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को महामारी के संकट से बचाने जैसे जनहित और खुद के तथा अपनाें के जीवन की रक्षा के प्रयासों में छात्र शक्ति का सकारात्मक उपयोग महत्वपूर्ण है। 
 
श्री गहलोत ने रविवार को मुख्यमंत्री निवास पर राजस्थान के विभिन्न विश्वविद्यालयों के छात्र प्रतिनिधियों से मुलाकात के दौरान यह बात कही। ये छात्र प्रतिनिधि प्रदेश में कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न हालात के दृष्टिगत इस वर्ष प्रदेश की सभी शिक्षण संस्थाओं में स्नातक और स्नातकोत्तर परीक्षाओं को स्थगित करने के मुख्यमंत्री के फैसले पर उनका आभार व्यक्त करने आए थे। 
 
मुख्यमंत्री से छात्रों की इस मुलाकात के दौरान उच्च शिक्षा राज्यमंत्री श्री भंवरसिंह भाटी भी उपस्थित थे। इस दौरान श्री भाटी ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के क्रम में श्री गहलोत ने छात्र हित में इस वर्ष परीक्षाएं नहीं करने और अगली कक्षा में क्रमोन्नत करने का संवेदनशील निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए प्रतिबद्ध है और छात्र-छात्राओं तथा युवाओं सहित सभी वर्गाें के कल्याण के प्रति भी संकल्पित है। 
जागरूकता अभियान में छात्र शक्ति का उपयोग महत्वपूर्ण-मुख्यमंत्री