ऑनलाइन योगाभ्यास के नवाचार से शुरू हुआ कोरोना जागरूकता सप्ताह ‘...

ऑनलाइन योगाभ्यास के नवाचार से शुरू हुआ कोरोना जागरूकता सप्ताह ‘योग भगाए रोग‘ टेग लाईन के साथ कोरोना जागरूकता के तहत हुआ योग

जयपुर, 21 जून। डूंगरपुर में ऑनलाइन स्ट्रीमिंग के माध्यम से नवाचार करते हुए कोरोना जागरूकता अभियान के प्रथम दिवस को योग दिवस के रूप में मनाया गया। ‘योग भगाए रोग‘ की टैग लाइन के साथ आयुष मंत्रालय की गाइड लाइन के अनुसार योग दिवस को अपने-अपने घर पर ही योगाभ्यास, प्राणायाम, आसन करते हुए कोरोना जागरूकता अभियान के रूप में मनाया गया। 
 
जिला प्रशासन सूचना, प्रौद्योगिकी विभाग एवं जिला आयुर्वेद विभाग के संयुक्त प्रयासों द्वारा ऑनलाइन स्ट्रीमिंग के माध्यम से व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए जिला आयुर्वेद विभाग के द्वारा तैयार पीपीटी एवं विडियों तथा लाईव एप के माध्यम से योगाभ्यास-प्राणायाम-करवाया गया । 
 
इस कार्यक्रम में जिला कलक्टर श्री काना राम, अतिरिक्त जिला कलेक्टर कृष्ण पाल सिंह चौहान, मुख्य कार्यकारी अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों एवं कर्मचारियों सहित अन्य लोगों ने भी ऑनलाइन जोड़ते हुए योगाभ्यास एवं प्राणायाम किया। उप निदेशक आयुर्वेद विभाग डॉ. प्रदीप उपाध्याय, डॉ. अभय मालीवाड़ ने योगाभ्यास एवं प्राणायाम कोविड-19 के माध्यम से करवाने हेतु सामग्री तैयार की। 
 
डॉ. उपाध्याय ने बताया की योग दिवस को वैश्विक महामारी कोरोना को देखते हुए सार्वजनिक जगह पर न मना कर अपने-अपने घर पर मनाया गया। जिला कलक्टर श्री कानाराम के निर्देशन में प्रशासन एवं आयुर्वेद विभाग डूंगरपुर द्वारा योगाभ्यास की प्रोटोकॉल अनुसार तैयार की गई पीपीटी को सोशल मीडिया पर गूगल मीट एप द्वारा प्रसारित कर ऑनलाइन मनाया गया। डॉ. अभय सिंह मालीवाड( सहायक नोडल अधिकारी) ने लैपटॉप के द्वारा योगाभ्यास की पीपीटी का संचालन किया गया। 
 
इसी के साथ कोरोना जागरूकता अभियान के प्रथम दिवस पर कोरोना जागरूकता शिविर का भी का आयोजन किया गया । राजकीय योग एवं प्राकृतिक चिकित्सालय डूंगरपुर के योग भवन में उपखंड अधिकारी डूंगरपुर सुरेश खटीक के निर्देशन में योग करवाया गया तथा 21 से 30 जून तक चलाए जाने वाले विशेष जागरूकता अभियान में सक्रिय भागीदारी निभाते हुए स्वयं जागरूकत होकर कोरोना संक्रमण हेतु बचाव एवं सावधानियों को अपनाने एवं अन्य को प्रेरित करने हेतु शपथ भी दिलवाई गई । इस अवसर पर उपखंड अधिकारी डूंगरपुर खटीक ने रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने हेतु इम्यूनिटि बूस्टर आयुर्वेदिक काढ़ा का वितरण भी किया । उन्होंने कहा कि योग से रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि के साथ कार्य क्षमता में गुणात्मक वृद्धि, मानसिक शांति और एकाग्रता में वृद्धि होती है। 
 
आयुर्वेद विभाग की ओर से उपनिदेशक डॉ. प्रदीप कुमार उपाध्याय, डॉ. निलेश कोटेड, डॉ. जयंत यादव, डॉ. विजय डामोर, डॉ. यशवंत परमार, पतंजलि योग समिति से श्री बाबूलाल आचार्य तथा आयुर्वेद कंपाउंडर श्री मणिलाल डामोर का जिला आयुर्वेद चिकित्सालय के योग कक्ष में पूर्ण रुप से सहयोग रहा।