कोरोना के प्रति जागरूकता के लिए दस दिवसीय विशेष अभियान संकट की घ...

कोरोना के प्रति जागरूकता के लिए दस दिवसीय विशेष अभियान संकट की घड़ी में मुख्यमंत्री ने सबका ध्यान रखा जिला स्तरीय कार्यक्रम में मैजिक शो रहा आमजन के लिए आकर्षण का केंद्र

जयपुर, 22 जून। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा कोविड-19 महामारी के प्रति आमजन को जागरूक करने के लिए सोमवार को विशेष अभियान की राज्य स्तरीय वर्चुअल लॉन्चिंग के बाद जोधपुर में प्रभारी मंत्री श्री लालचंद कटारिया एवं प्रभारी सचिव श्री नवीन महाजन ने जिला स्तर पर अभियान की औपचारिक शुरूआत की। सोशल डिस्टेंसिंग और भीड़ से बचने के मूल मंत्र को साकार करते हुए जिला स्तरीय कार्यक्रम का भी जोधपुर डिस्टि्रक्ट के अॅाफिशियल फेसबुक के माध्यम से लाइव टेलीकास्ट किया, ताकि अधिक से अधिक लोग घर बैठे इस कार्यक्रम से जुड़ सकें और कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक हो सकें।
 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला प्रभारी मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने कहा कि पूरा विश्व इस महामारी से संघर्ष कर रहा है, लेकिन गर्व की बात है कि राजस्थान में इस बीमारी से बचाव के लिए जो कारगर कदम उठाए गए, वे पूरे देश में उदाहरण के रूप में देखे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज राजस्थान में इस बीमारी से रिकवर होने की दर देश में सबसे ज्यादा करीब 77 प्रतिशत है और मृत्यु दर केवल 2.32 प्रतिशत है। खुद के स्वास्थ्य का खुद रखें ख्याल‘ की थीम पर शुरू हुए इस अभियान का लक्ष्य यही है कि अधिक से अधिक लोग जागरूक हों और यह रिकवरी दर लगातार बढ़ती जाए तथा मृत्यु दर निरंतर घटती हुई नगण्य हो जाए। 
 
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेशभर में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए ऎतिहासिक काम हुआ है। जोधपुर जिला इस बीमारी को लेकर पूरी तरह सतर्क और सजग है। यहां अधिकारियों द्वारा बेहतर कार्य किया गया है और टेस्टिंग सर्वाधिक हुई।  इसमें स्वयंसेवी समूह एवं समाजसेवी भी इस कार्य में आगे बढ़कर सहयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जोधपुर में इस अभियान को सफल बनाने में हम कोई कमी नहीं रखेंगे। 
 
उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में मुख्यमंत्री द्वारा लिए गए फैसलों से हर वर्ग को राहत मिली है और हम कोरोना के संक्रमण को प्रदेश में सीमित करने में अब तक कामयाब रहे हैं। हम प्रदेश को कोरोना मुक्त करने के लिए हरसम्भव प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति इस बीमारी की गंभीरता को समझे और मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग रखने, बार-बार हाथ धोने जैसे उपायों को अपनाकर खुद के स्वास्थ्य का खुद ख्याल रखें। 
 
उन्होंने जिला प्रशासन की तारीफ करते हुए सर्वाधिक टेस्टिंग के साथ जिले को कोरोना के संक्रमण से बचाव के  लिए विभिन्न इंतजाम किए जाने पर सराहा। उन्होंनें कहा कि होम आइसोलेशन का मॅाडल भी कारगर का रहा। उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा कोरोना के संक्रमण की आगामी चुनौतियों को देखते हुए संपूर्ण व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने के कार्य को सराहा। उन्होंने मीडिया की प्रशंसा करते हुए कहा कि आमजन को कोरोना संक्रमण के रोकथाम के प्रति जागरूक करने का बेहतरीन कार्य सतत् रूप से मीडिया द्वारा किया जा रहा है।
 
उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में 30 जून तक चलाए जाने वाले विशेष अभियान में जोधपुर जिला प्रशासन अधिक से अधिक जनभागीदारी सुनिश्चित कर रहा है। यह खुशी की बात है। अभियान के तहत सभी दस दिन अलग-अलग गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं और इन गतिविधियों में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए रोचक रूप देकर आमजन को जोड़ा जा रहा है, ताकि गांव-ढाणी और मोहल्ले तक जन-जन को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जागरूक किया जा सके। हमारा प्रयास यही होना चाहिए कि हम स्वयं सतर्क रहें और दूसरे लोगों को भी इस बीमारी के प्रति सतर्क रखें। 
 
मैजिक शो से जागरूक हुए आमजन ः-
 
कार्यक्रम के दौरान जिला कलेक्टर के निर्देशन में सूचना एवं जन संपर्क कार्यालय जोधपुर द्वारा आमजन को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक करने के लिए जादूगर गोपाल का मैजिक शो भी रखा गया। जादूगर गोपाल ने अपनी जादूगिरी के माध्यम से फेसबुक लाइव से बड़ी संख्या में जुडे़ लोगों को मास्क पहनने, बार-बार हाथ धोने, सोशल डिस्टेंसिंग रखने, सार्वजनिक स्थानों पर नहीं थूकने, लक्षण नजर आने पर तुरंत अस्पताल जाकर जांच कराने के लिए जागरूक किया। जादूगर गोपाल का यह अनूठा शो आमजन के आकर्षण का केंद्र रहा और चर्चा का विषय बना रहा। कोरोना संक्रमण के प्रति सावधानी के लिए इस रोचक नवाचार के जरिए दिए गए संदेश को सभी ने सराहा। जादू के शो में कच्छी घोड़ी संगीता मिश्रा व बालिका योगिता ने भी अच्छी भूमिका निभायी।
 
प्रभारी मंत्री ने कोरोना के संक्रमण सें बचाव संबंधी जागरूकता जिंगल व वीडियो को किया लॅांच ः-
 
प्रभारी मंत्री कटारिया ने सूचना एवं जन संपर्क कार्यालय, जोधपुर द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के प्रति जागरूकता के संबंध में तैयार करवाए गए अॅाडियो जिंगल व वीडियो का रिमोट बटन दबाकर लॅांच किया। प्रभारी मंत्री ने कोरोना जागरूकता संबंधी पुस्तक ‘घबराए नहीं सावधान रहे‘ का भी विमोचन किया।
 
मास्क डिजाइन प्रतियोगिता के विजेताओं को किया सम्मानित ः-
 
इस अवसर पर 21 जून को आयोजित मास्क डिजाइन प्रतियोगिता के विेजेता प्रतिभागियों को भी सम्मानित किया गया। व्यूअर्स चॉइस और ज्यूरी चॉइस से चुने गए तीन-तीन प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। प्रथम पुरस्कार के रूप में 2100 रूपए, द्वितीय पुरस्कार के रूप में 1100 रूपए और तृतीय पुरस्कार के रूप में 500 रूपए नकद एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए।
 
प्रभारी मंत्री ने प्रचार रथ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया ः-
 
प्रभारी मंत्री लालचंद कटारिया ने कोरोना की रोकथाम संबंधी जागरूकता फैलाते प्रचार रथ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा0 बलवंत मंडा ने बताया कि जागरूकता अभियान के तहत प्रचार रथ जिले के कंटेनमेंट जोन सहित शहर भर में आईईसी गतिविधियां व अॅाडियो संदेश के माध्यम से आमजन को कोरोना के बचाव व रोकथाम के बारे में जागरूक किया जाएगा। उन्होंने बताया कि राज्य स्तर से विशेष जागरूकता प्रचार रथ के माध्यम से शहर के साथ जिले भर में खण्ड स्तर पर रूट चार्ट के अनुसार करीब 100 से अधिक राजस्व गांवों में जाकर लोगों को जागरूक किया जाएगा।