कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक संक्रमितों की बढ़ती संख...

कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक संक्रमितों की बढ़ती संख्या चिन्ता का विषय गंभीरता से आकलन कर उठाएं जरूरी कदम -मुख्यमंत्री

जयपुर, 25 जून। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमितों की लगातार बढ़ रही संख्या चिन्ता का विषय है। विशेषज्ञ चिकित्सकों, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों को इस स्थिति की गंभीरता का आकलन करते हुए आवश्यक कदम उठाने चाहिए। उन्होंने निर्देश दिए कि आम लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए हेल्थ प्रोटोकॉल की अनुपालना सख्ती से की जाए।
 
श्री गहलोत ने गुरूवार को मुख्यमंत्री निवास पर कोरोना संक्रमण की समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि संक्रमण को नियंत्रित रखने के लिए कोरोना के लिए टेस्टिंग, संक्रमित लोगों के इलाज तथा विदेश से आ रहे यात्रियों के लिए संस्थागत क्वारेंटाइन की व्यवस्थाओं को और पुख्ता करने के प्रयास करें। साथ ही, बड़ी संख्या में आम लोगों को कोरोना जागरूकता अभियान से जोड़कर उन्हें अपने स्वास्थ्य का खुद खयाल रखने के लिए प्रेरित करें। 
 
मुख्यमंत्री को बैठक में अवगत कराया गया कि प्रदेश में अब तक 16085 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। बीते कुछ दिनों में धौलपुर और भरतपुर जिलों में पॉजिटिव केसों की संख्या अधिक रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक टीम ने धौलपुर जिले में संक्रमण की स्थिति का आकलन भी किया है। बताया गया कि बीते कुछ सप्ताहों के दौरान कुवैत, यूएई, कजाकिस्तान, किर्गीस्तान आदि देशों से लौटे मजदूरों और मेडिकल के विद्यार्थियों के कारण प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़ी है। इन सभी यात्रियों की टेस्टिंग की गई है। अब तक आरटीपीसीआर से की गई टेस्टिंग में 3357 यात्रियों में से 156 को पॉजिटिव पाया गया है। आगामी दिनों में खाड़ी देशों से आने वाले यात्रियों के लिए उदयपुर और बांसवाड़ा में संस्थागत क्वारेंटाइन की व्यवस्था की गई है। 
 
बैठक में बताया गया कि अजमेर से ईंट भट्टों में काम करने वाले मजदूरों को लेकर एक श्रमिक स्पेशल टे्रन शुक्रवार को छत्तीसगढ़ रवाना होगी तथा बैंगलुरू से एक अन्य श्रमिक स्पेशल ट्रेन राजस्थान पहुंची है। इसके अतिरिक्त अब तक 284 मोक्ष कलश स्पेशल बसों के माध्यम से 11 हजार 394 यात्रियों को अपने परिजनों के अस्थि कलश विसर्जन के लिए हरिद्वार भेजा गया।
 
बैठक में चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा, मुख्य सचिव श्री डी.बी. गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह श्री राजीव स्वरूप, पुलिस महानिदेशक श्री भूपेन्द्र सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री रोहित कुमार सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव सार्वजनिक निर्माण श्रीमती वीनू गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त श्री निरंजन आर्य, अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग श्री सुबोध अग्रवाल, प्रमुख शासन सचिव सूचना प्रौद्योगिकी श्री अभय कुमार, सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्री सिद्धार्थ महाजन, जनसम्पर्क आयुक्त श्री महेन्द्र सोनी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक संक्रमितों की बढ़ती संख्या चिन्ता का विषय  गंभीरता से आकलन कर उठाएं जरूरी कदम -मुख्यमंत्री