वॉररूम के कोरोना वॉरियर्स ने नहीं हारी हिम्मत कोरोना पॉजिटिव पा...

वॉररूम के कोरोना वॉरियर्स ने नहीं हारी हिम्मत कोरोना पॉजिटिव पाये जाने पर वॉररूम ने काम करने का बदला तरीका कोरोना वॉररूम अब आईटी वर्चुअल वॉररूम के रूप में कर रहा है कार्य प्रदेशवासियों को मिल रही है मदद

जयपुर,03 जून। सचिवालय स्थित कोरोना वॉररूम में 29 मई को एक अधिकारी के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद वॉररूम वर्चुअल तरीके से कार्य कर लगातार अपनी सेवाएं दे रहा है। पहले वॉररूम में 8-8 घन्टे की शिफ्ट में अधिकारी एवं कर्मचारी कार्य रहे थे लेकिन अब आईटी वर्चुअल वॉररूम में भी शिफ्ट के अनुसार अधिकारी एवं कर्मचारी सुचारू रूप से कार्य कर रहे है। यह जानकारी प्रमुख शासन सचिव सूचना एवं प्रौद्योगिकी श्री अभय कुमार ने दी। श्री कुमार ने बताया की आईटी वर्चुअल वॉररूम में क्वारेंटाइन अधिकारी एवं कर्मचारी घर से कार्य कर रहे है। कार्यस्थल पर संपादित होने वाले कामों के लिए केवल न्यूनतम अधिकारी एवं कर्मचारी ही कार्यस्थल पर जा रहे है। आईटी वर्चुअल वॉररूम में अधिकारियों एवं कर्मचारियों के कार्य की प्रकृति एवं उनके स्वास्थ्य को देखते हुए तय की गई है तथा आवश्यक सुविधाएं भी प्रदान की गई है। कार्य को किया तीन स्तर पर विभाजित आयुक्त, सूचना एवं प्रौद्योगिकी श्री वीरेन्द्र सिंह ने बताया किआईटी वर्चुअल वॉररूम के तहत कार्य विभाजन की तीन स्तरीय संरचना की गई है जिसमें पहला प्रबंधन है इसके अन्तर्गत विभिन्न इनबिल्ट डैशबोर्ड और सिस्टम के माध्यम से ऑनलाइन वॉररूम के कामकाज की निगरानी हेतु अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। श्री वीरेन्द्र सिंह ने बताया किदूसरी मॉनिटरिंग की व्यवस्था के अन्तर्गत आरएएस एवं आरपीएस अधिकारियों को मॉनिटरिंग हेतु विभिन्न प्रकार की रिर्पोटिंग, फोन कॉल, व्हॉट्सएप के माध्यम से जिला वॉररूम के समूहों के रूप में कार्य की जिम्मेदारी सौंपी गई है। ये अधिकारी या तो घर से काम कर सकते है या आवश्यकतानुसार उनके संबंधित कार्यस्थल की भी निगरानी कर सकते है। उन्होंने बताया कि तीसरे प्रकार में कार्मिकों को तीन प्रकार से जिसमें घर से काम, वॉररूम से काम तथा कार्यालय से काम करने की जिम्मेदारी दी गई है। इस रणनीति से अधिकारी एवं कर्मचारी उत्साह के साथ लगातार कार्य कर रहे है और इस प्रकार कोरोना महामारी के दौरान वॉररूम लगातार कार्य कर रहा है। आईटी वर्चुअल वॉररूम में वीडियों कॉल पर लगातार टीम मीटिंग की व्यवस्था की गई है। आवश्यकता होने पर सभी कॉल, ईमेल, वीडियो कॉल पर उपलब्ध रहते है लगातार कार्यों एवं असाइनमेन्ट की समीक्षा की जाती है। सभी के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए कार्यो को आवंटन किया जाता है।