राजसमन्द जिले से 423 प्रवासी मजदूर उत्तप्रदेश के लिये रवाना, प्रशा...

राजसमन्द जिले से 423 प्रवासी मजदूर उत्तप्रदेश के लिये रवाना, प्रशासन ने किए बेहतरीन इंतजाम

जयपुर,17 मई । सहकारिता मंत्री श्री उदय लाल आंजना ने बताया कि प्रदेश में 16 अप्रेल से शुरू हुए खरीफ फसली ऋण वितरण से एक माह में 2 हजार 198 करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त फसली ऋण वितरण का हुआ है। इससे 7 लाख 24 हजार 684 किसानों को लाभ मिल चुका है। उन्होंने बताया कि 25 लाख किसानों को वर्ष 2020-21 में 16 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त अल्पकालीन फसली ऋण का वितरण किया जायेगा।
 
श्री आंजना ने बताया कि 10 हजार करोड़ रुपये खरीफ सीजन में तथा 6 हजार करोड़ रुपये रबी सीजन में वितरित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष किसानों को खरीफ फसली ऋण के तहत 25 प्रतिशत तक फसली ऋण बढ़ाकर दिया जा रहा हैं। उन्होंने बताया कि इस वर्ष भी 3 लाख नए किसानों को फसली ऋण से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन के चलते किसानों को उनके कृषि कार्यो में कम से कम परेशानी हो इसके लिए उनके हित में निरन्तर फैसले ले रहे है।
 
सहकारिता मंत्री ने बताया कि केन्द्रीय सहकारी बैंकों द्वारा अल्पकालीन फसली ऋण खरीफ सीजन में 31 अगस्त तक वितरण होगा। रबी सीजन में फसली ऋण 1 सितम्बर,2020 से 31 मार्च, 2021 तक किसानों को वितरित कियाजायेगा।
 
जयपुर, 17 मई । राजस्थान सरकार द्वारा प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुँचाने के लिये की जा रही व्यवस्था के क्रम में रविवार को राजसमन्द जिले से 423 मजदूरों को उदयपुर से ट्रेन द्वारा रवाना किया गया।

 
जिला कलेक्टर श्री अरविंद पोसवाल के मार्गदर्शन में राजसमन्द उपखंड अधिकारी और राजसमंद तहसीलदार स्वयं उदयपुर रेलवे स्टेशन तक साथ जाकर रेलगाड़ी में बैठाकर मजदूरों को रवाना किया।

 
तहसीलदार श्री ध्यानचंद दलाल ने बताया  कि धोईन्दा से सभी 13 बसें नाथद्वारा में मिराज के पास स्थित जगदम्बा होटल पहुंची। वहां पर भोजनं व्यवस्था प्रभारी एवं विकास अधिकारी पंचायत समिति राजसमंद श्री भुवनेश्वर सिंह चौहान द्वारा व्यवस्था की गई और मेवाड़ का प्रसिद्ध भोजन लापसी, दो तरह की सब्जियां तथा रोटियां एवं चावल के पैकेट सभी मजदूरों को देकर गंतव्य उदयपुर रेलवे स्टेशन के लिए भेजा।

 
विकास अधिकारी श्री भुवनेश्वर सिंह चौहान ने बताया कि सभी यात्री पहले धोईन्दा बस स्टैंड पर एकत्रित हुए। यहाँ से 13 रोडवेज बसों को उदयपुर रेलवे स्टेशन के लिये अतिरिक्त जिला कलेक्टर श्री राकेश कुमार और उपखंड अधिकारी श्री सुशील कुमार ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। धोईन्दा बस स्टैण्ड पर प्रशासन द्वारा सभी मजदूरों को बिस्किट और पानी की बोतल दी गयी। बस स्टैंड पर सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे इस के लिये सभी मजदूरों को बस नम्बर सीट, नम्बर पहले से ही दे दिये गए। 

 
जिला मुख्यालय पर विभिन्न क्षेत्रों में मजदूरी करने वाले झांसी के 4, बन्दा के 58, चित्रकूट के 332, चंदौली के 1, गाजीपुर के 1, जौनपुर के 14, वाराणसी के 3, मिर्जापुर के 9, बहड़ोली के 1 सहित  कुल 423 मजदूर श्रमिक यात्री उत्तरप्रदेश के विभिन्न जिलों के लिये पूरी सुविधा और सुरक्षा के बेहतरीन इंतजामों के साथ रवाना हुए।

 
इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री राकेश कुमार, उपखण्ड अधिकारी श्री सुशील कुमार, तहसीलदार श्री ध्यानचन्द दलाल, विकास अधिकारी श्री भुवनेश्वर सिंह चौहान, प्रावासियों के जिला प्रभारी श्री किशनलाल गाडरी व श्री कुलदीप शर्मा सहित बड़ी संख्या में प्रवासी उपस्थित थे।