’क्षेत्र के अंतिम छोर पर रहने वाले व्यक्ति तक पहुंचे राहत - टीएडी ...

’क्षेत्र के अंतिम छोर पर रहने वाले व्यक्ति तक पहुंचे राहत - टीएडी मंत्री किसी भी प्रकार की कमी नहीं रहने देंगे का दिया आश्वासन

जयपुर, 5 मई। जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग उद्योग एवं राजकीय उपक्रम राज्यमंत्री श्री अर्जुन सिंह बामनिया ने अधिकारियों को कहा कि कोरोना संक्रमण की कठिन परिस्थितियों में क्षेत्र के अंतिम छोर पर रहने वाले व्यक्ति तक राहत पहुंचाने के लिए पूरी सजगता एवं मुस्तैदी से कार्य करे एवं जरूरतमंदोें को राहत प्रदान करे। 
 
मंत्री श्री  बामनिया ने मंगलवार को बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ क्षेत्र के दौरे के दौरान कोरोना संक्रमण को लेकर उपस्थित अधिकारियों को दिशा निर्देश देते हुए उपरोक्त बात कही।  उन्होंने अधिकारियों को आमजन को सहज रूप से  सुविधाएं प्राप्त हो सके इसके लिए बेहतर प्रबंधन से साथ कार्य करने को कहा।  
 
टीएडी मंत्री श्री बामनिया ने कुशलगढ़ विधायक रमिला खड़िया, जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजकुमार, विकास अधिकारी, पुलिस उप अधीक्षक, समाजसेवियों के साथ बैठक की एवं  कुशलगढ़ क्षेत्र में पेयजल, राशन सामग्री वितरण व्यवस्था, प्रवासी मजदूरों के लिए क्वारेन्टाइन और स्वास्थ्य जांच को लेकर की गई व्यवस्था एवं अब तक की प्रगति के बारे में जानकारी ली। 
 
मंत्री श्री बामनिया ने सभी अधिकारियों और कर्मचारियों से कहा कि वे मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की मंशा के अनुसार कार्य करते हुए यह सुनिश्चित करे कि क्षेत्र का कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे तथा इसके लिए योजनाबद्ध रूप से कार्य किया जाए तथा जरूरतमंदों को राज्य सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं से लाभान्वित किया जाए।
 
पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था के दिए निर्देश
 
मंत्री श्री बामनिया ने कुशलगढ़ क्षेत्र में पेयजल संबंधित व्यवस्थाओं की भी जानकारी ली और विशेषकर घाटा क्षेत्र एवंं जहां भी आवश्यकता हो वहां पर लोगों को पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने गर्मी के मौसम को देखते हुए क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था में किसी तरह की कमी न आए इस हेतु सम्बन्धित विभाग द्वारा योजनाबद्ध रूप से कार्य करते हुए आमजन को पेयजल उपलब्ध कराने को कहा। 
 
बामनिया में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कोरोना को रोकने एवं पॉजिटिव से नेगेटिव हुए लोगों के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने चिकित्सा अधिकारियों से सम्पूर्ण क्षेत्र में अब तक की गई जांचों एवं उनकी प्रगति के बारे में भी विस्तृत जानकारी ली। उन्होने चिकित्सकों से कहा कि जांच कार्य को त्वरित गति से पूरा किया जाए ताकि कोरोना संक्रमण को रोका जा सके।
 
उन्होंने अधिकारियों को अगले कुछ दिन और विशेष सतर्कता बरतने को कहा जिससे की जिले को रेड जोन से ग्रीन जोन में लाया जा सके। उन्होंने कफर््यू ग्रस्त क्षेत्र में कार्यरत पुलिस के जवानों, पैरामेडिकल स्टाफ, चिकित्सकों और अन्य विभागों के कर्मचारियों एवं अधिकारियों की हौंसला अफजाई करते हुए कहा कि आप सभी की कड़ी मेहनत और लगन के चलते आमजन को सुविधाएं उपलब्ध हो रही हैं जिससे क्षेत्र के लोग भी प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों को पूरा सहयोग कर रहे हैं।
 
’क्षेत्र के अंतिम छोर पर रहने वाले व्यक्ति तक पहुंचे राहत - टीएडी मंत्री किसी भी प्रकार की कमी नहीं रहने देंगे का दिया आश्वासन