उत्तरप्रदेश-उत्तराखण्ड से श्रमिकों एवं प्रवासियों का आवागमन भर...

उत्तरप्रदेश-उत्तराखण्ड से श्रमिकों एवं प्रवासियों का आवागमन भरतपुर-मथुरा मार्ग से होगा, भरतपुर में चैक पोस्ट स्थापित

जयपुर, 1 मई। राज्य के विभिन्न जिलों में रह रहे उत्तरप्रदेश एवं उत्तराखण्ड के श्रमिकों एवं प्रवासियों को उनके गन्तव्य निवास स्थान तक पहुंचाने एवं राजस्थान के निवासियों को उत्तरप्रदेश एवं उत्तराखण्ड से लाने के लिए दोनों राज्यों की सरकारों ने मथुरा को पारगमन केन्द्र (ट्रांजिट पॉइन्ट) चुना है। भरतपुर जिला कलक्टर श्री नथमल डिडेल ने इन श्रमिकों एवं प्रवासियों को भरतपुर से मथुरा होते हुए उनके गन्तव्य निवास स्थानों पर स्वास्थ्य मानकों की पालना करते हुए पहुंचाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए आदेश जारी कर पड़ताल नाकों (चैक पोस्ट) की स्थापना कर दिशा-निर्देश जारी किए हैं। 
 
आदेशानुसार भरतपुर में खेड़ली मोड़ पुलिस चौकी एवं भरतपुर-मथुरा रोड़ पर रारह में चैक पोस्ट की स्थापना की गयी है। दोनों चैक पोस्ट पर 8-8 घंटे के हिसाब से राउण्ड द क्लॉक कार्य करने के लिए कार्मिकों की नियुक्ति की गयी है। यह कार्मिक इन चैक पोस्टों पर पहुंचने वाली बसों के नम्बर एवं उसमें बैठी हुई सवारियों की संख्या का जिलेवार अंकन कर रजिस्टर में संधारण करेंगे। राजस्थान में प्रवेश करने वाले सभी श्रमिकों एवं प्रवासियों का स्वास्थ्य परीक्षण रारह चैक पोस्ट पर किया जाएगा एवं प्रदेश में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जिलेवार प्रवि6िट दर्ज की जाएगी। इसके बाद ही उनको आगे रवाना किया जाएगा।
 
सुचारू व्यवस्थाओं के लिए प्रभारी अधिकारियों की नियुक्ति
श्रमिकों एवं प्रवासियों के आवागमन के सुचारू संचालन के लिए अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) श्री नरेश कुमार मालव को समग्र पर्यवेक्षणीय अधिकारी बनाया गया है। खेड़ली मोड पुलिस चौकी पर बनायी गयी चैक पोस्ट के प्रभारी उपखण्ड अधिकारी भुसावर मनमोहन मीणा एवं उपखण्ड अधिकारी वैर अमित कुमार वर्मा होंगे। यह दोनों अधिकारी खेड़ली मोड़ पुलिस चौकी से निकलने वाली प्रत्येक बस की सूचना रारह चैक पोस्ट के प्रभारी उपखण्ड अधिकारी कुम्हेर उत्सव कौशल एवं समग्र पर्यवेक्षणीय अधिकारी को देना सुनिश्चित करेंगे। रारह चैक पोस्ट पर उपखण्ड अधिकारी कुम्हेर के सहायतार्थ उपखण्ड अधिकारी भरतपुर संजय गोयल एवं डीग तहसीलदार सोहन सिंह नरूका को भी लगाया गया है।
 
जिला पुलिस अधीक्षक हैदर अली जैदी दोनों चैक पोस्ट पर पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारियों की नियुक्ति कर सम्बंधित थानाधिकारियों को पर्याप्त पुलिस जाप्ते के साथ मौके पर उपस्थित रहना सुनिश्चित करेंगे। सेवर तिराहे से लेकर मथुरा बाईपास तक सभी महत्वपूर्ण बिन्दुओं, रोड़कट डायवर्जन आदि पर पर्याप्त पुलिस जाप्ता तैनात किया जायेगा ताकि कोई भी बस बीच में न रूकने पाये।
 
सम्पर्क-समन्वय के लिए सम्भागवार प्रभारी अधिकारी बनाए 
प्रदेश के सभी जिलों के कलक्टर्स, अतिरिक्त जिला कलक्टर्स एवं इन जिलों के कोरोना वार रूम प्रभारियों से सम्पर्क एवं समन्वय स्थापित करने के लिए सम्भागवार प्रभारी अधिकारी बनाये गये हैं। कोटा एवं बीकानेर सम्भाग के लिए एडीएम भरतपुर (प्रशासन) नरेश कुमार मालव, उदयपुर एवं भरतपुर सम्भाग के लिए एडीएम (सिटी) डॉ. राजेश गोयल, जयपुर सम्भाग के लिए जिला परिषद सीईओ पुष्कर राज शर्मा, अजमेर सम्भाग के लिए रजिस्ट्रार एमएसबी विश्वविद्यालय हेमन्त स्वरूप माथुर तथा जोधपुर सम्भाग के लिए सचिव यूआईटी उम्मेदी लाल मीणा को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया है। ये अधिकारी रारह चैक पोस्ट प्रभारी एवं समग्र पर्यवेक्षणीय अधिकारी से समन्वय कर आवश्यकतानुसार बसों को रवाना करवायेंगे ताकि एक ही समय पर एक साथ बसें एकत्रित न हो पायें एवं कोई अव्यवस्था उत्पन्न नहीं हो।
 
जिला परिवहन अधिकारी भरतपुर यह सुनिश्चित करेंगे कि अन्य जिलों से आने वाली कोई भी बस निर्धारित किये गये स्थलों के अलावा किसी भी यात्री को नहीं उतारें।