होम्योपैथी पद्धति को और मजबूती दी जाएगी -चिकित्सा मंत्री

होम्योपैथी पद्धति को और मजबूती दी जाएगी -चिकित्सा मंत्री

जयपुर, 10 अप्रेल। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि प्रदेश मेें होम्योपैथी चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा देने के लिए सरकार संकल्पबद्ध है। राज्य सरकार ने गत बजट में 18 करोड़ की राशि से जोधपुर और अजमेर जिले में होम्योपैथी महाविद्यालय खोलने की घोषणा की है। 
 
डॉ.  शर्मा शुक्रवार को होम्योपैथी के जनक डॉ.  सैम्यूअल हैनीमेन की 265वीं जयंती के अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश और देश इन दिनों कोरोना के प्रकोप को झेल रहा है। ऎसे में औपचारिक समारोह प्रदेश में आयोजित नहीं किया जा सका है। उन्होंने कहा कि प्रदेश मेें कोरोना के बादल छटने के बाद होम्योपैथी को मजबूत चिकित्सा पद्धति बनाने पर काम किया जाएगा। 
  
चिकित्सा मंत्री ने कहा कि झुंझुनू में 18 प्रकार की होम्योपैथी दवाओं को आशा सहयोगिनी, आंगनबाड़ी और एएनएम के द्वारा जन-जन तक पहुंचाया था। यह प्रयोग सफल भी रहा था। उन्होंने कहा कि इस पद्धति को ट्रिपल-ए (आशा सहयोगीनी, आंगनबाड़ी और एएनएम) के जरिए पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। इससे आमजन को बिना किसी दुष्प्रभाव और कम खर्च के सहज उपचार मिल सकता है।