राज्यपाल श्री कलराज मिश्र की अपील तबलीगी जमात से सम्पर्क में आये...

राज्यपाल श्री कलराज मिश्र की अपील तबलीगी जमात से सम्पर्क में आये लोग स्वेच्छा से जांच करायें हॉट स्पॉट में लॉक डाउन का उल्लघंन करने वालों पर कठोर कार्यवाही होगी सर्वाधिक स्क्रीनिंग और परीक्षण से ही कोरोना पर काबू पा सकेंगे

 जयपुर, 11 अप्रेल। राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने कहा है कि तबलीगी जमात से सम्पर्क में आये लोग स्वेच्छा से जांच कराने के लिए आगे आयें। उन्होेंने कहा कि सर्वाधिक स्कि्रनिंग और सर्वाधिक परीक्षण करके ही हम कोरोना जैसी महामारी को मात दे सकेगें। सम्पर्क में आये जिन लोगों को जुकाम आदि हो ,वे भी जांच कराने की पहल करें। राज्यपाल   श्री मिश्र ने कहा  कि कोरोना वैश्विक महामारी के चलते प्रदेश में लाक डाउन है। ऎसी स्थिति में हॉट स्पॉट बने स्थानों पर लोग प्रशासन,पुलिस और पैरामेडीकल स्टाफ का पूरा सहयोग करें।  लोग घरों में ही रहें, निकले नहीं। यदि कोई व्यक्ति लाक डाउन के नियमों का उल्लघंन करता हॅै या चिकित्सक , पैरामेडीकल और पुलिस स्टॅाफ के प्रति दुव्र्यवहार करता है तो उसके खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाये।
 
 
       राज्यपाल श्री मिश्र ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा प्रभावी निर्देश जारी किये गये हैं। सभी को मास्क पहनना अनिवार्य है। मास्क न होने पर गमछा या कपडे से अपने नाक और मुंह को ढक कर रखें। सभी लोगों को ऎसा करना आवश्यक है ताकि कोरोना को मात दी जा सके। राज्यपाल ने कहा कि विश्व में अनेक स्थानों पर कोरोना ने तेजी से विस्तार किया है। भारत में लोगों के सहयोग से इस बीमारी को तीव्रता से फैलने में रोक लगी है। राज्यपाल ने लोगों से विनम्र अपील की है कि लोग सहयोग करें। संदिग्धों की जांच कराने में सहयोग करें ताकि इस बीमारी को मात देने में राजस्थान विजय प्राप्त कर सके।
 
      
           राज्यपाल ने कहा कि अगले सप्ताह में वैशाखी और अम्बेडकर जयंती जैसे पर्व हैं। इन्हें भी लोग घरों में ही रहकर मनायेंं। यह प्रदेश और देश के हित के लिए है। राज्यपाल ने कहा कि लोगों से बार बार आग्रह किया जा रहा है। लोग निर्देशों को माने। राज्यपाल ने कहा कि उदण्डता करने वाले लोगों को बर्दाश्त नही किया जायेगा, उन पर कार्यवाही की जायेगी। राज्यपाल ने कहा कि चिकित्सक, पेरामेडीकल और पुलिस व प्रशासन के जो लोग डयूटी पर तैनात है , आमजन ऎसे लोगों के परिवारजन का ध्यान रखने में सहयोग करें।